Ocean's

समुद्र के नीचे क्या है | समुद्र की गहराई कितनी होती है

समुद्र के नीचे क्या है | समुद्र की गहराई कितनी होती है

आखिर समुंदर के नीचे क्या मौजूद हैं और अगर हम समुंदर की गहराई में जाए तो हमे वहा क्या देखने मिलेगा कहने को तो ये समुंदर हमारे करीब हैं मगर हम नहीं जानते की इन समुंद्र के अन्दर क्या क्या राज छुपा है हम नहीं जानते की अगर हम समुंदर की गहराई में चले जाएं तो हमे केसे केसे जीवो का सामना करना पड़ेगा और सबसे ज़रूरी ये की समुंदर के भी नीचे क्या मौजूद हैं
वैल इन सभी सवालों के जवाब हम आज की इस Post में देने वाले हैं
तो हेलो Guys मेरा नाम है गौरव और Research Hindi facts की इस Post में आपका स्वागत हे तो चलिए शुरू करते हैं।

1 समुंदर की गहराई में क्या मौजूद हैं


दोस्तो हम अपने समुंद्र को कई 100 सालों से एक्स्प्लोर करने में लगे हुए हैं लेकिन अभी भी ऐसा बहुत कुछ है जो हमने एक्सप्लोर नहीं किया है
या यू कहे की हम इंसानी आंखो ने अभी भी जिस समुद्र को देखा है वो तो कुछ भी नहीं है। जैसे कि आप जानते हैं कि हमारी धरती का 71% एरिया पानी से घिरा हुवा है। अगर बात सिर्फ समुंद्र की करें तो पृथ्वी के 70% एरिया पर सिर्फ समुंद्र का ही राज है। मतलब आप समझ सकते हो की जिस 30 % एरिया में हम इंसान रहते हैं उस 30%एरिऐ में भी रहस्य के भण्डार लगे हुए हैं जिन्हे हम सुलझा नहीं सके धरती पर रहकर । तो जरा सोचिए हम उस 70% हिस्से को केसे एक्सप्लोर करेंगे जो की समुंदर में हैं ये सोचने वाली बात है वैसे आप क्या कहना चाहेंगे इस बारे मे कॉमेंट में जरूर बताना।

एक अंदाजे के मुताबिक हमारे समुंद्र में कुल 1.3×10की पावर 21 लीटर पानी है वेस्ट Pacific Ocean में स्थित मेरियाना ट्रेंच का चैलेंजर डीप आज तक का खोजा गया सबसे डीपेस्ट पॉइंट है। ये हमारे सी लेवल से दस हजार नौ सौ चौरासी मीटर्स नीचे हैं।हम समुंद्र में जितना नीचे जाते हैं हमारे ऊपर मौजूद पानी हम पर उतना ही ज्यादा प्रेसर डालता है। आपको बता दें की चैलेंजर डीप में पहुंचने वाली सबमरीन पर इतना ज्यादा फाॅर्स लगा था । जितना आपकी उंगली पर एक हाथ के चलने के कारण लगेगा। मतलब कि आप सोचो कितना ज्यादा प्रेसर है । पर मैं यहाँ आपको ये बात साफ कर देना चाहता हूँ की समुद्र में इतने घराई में पहुंचने का मतलब ये नहीं है कि हम ने वहाँ तक सब कुछ एक्स्प्लोर कर लिया है। समुद्र के अन्दर कौन कौन से जीव मौजुद है इस से हम आज भी काफी हद तक अनजान है।
क्या पता विलुप्त कहे जाने वाली megalodon समुद्र की गहराइयों में आज भी रहती हो । ओर क्या पता कि पृथ्वी पर इंसानों की तरह ही कोई इंटेलिजेंट इस्पिसिस समुद्र की गहराइयों में रहती हो। जैसा की आपने हॉलिवुड मूवी में अटलांटिक के बारे में देखा होगा।
क्या पता वो सिटी आज भी समुद्र के अंदर कहीं हो जरा सोचो क्या क्या होने की संभावना नहीं हो सकती।


2 समुंदर के नीचे क्या है 

देखिए पृथ्वी की सबसे ऊपरी लेयर होती है क्रस्ट की लेयर जिस पर पूरा जीवन समाया हुआ है। अब देखिए जिस पर हमारा ये समुद्र बसा हुआ है वो क्रस्ट पांच से दस किलोमीटर तक ही मोटा है जिसके बाद मेंटल की लिए शुरू हो जाती है। वहीं जहाँ पर हम जीवधारी लोग रहते हैं यानी जमीन का एरिया। वो क्रस्ट लगभग 65 से 70 किलोमीटर तक मोटा है उसके बाद मेंटल की लेयर चालू हो जाती है। अब देखिए जमीन के नीचे यानी क्रस्ट के अंदर लगभग एक किलोमीटर की गहराई में मनुष्य ड्रिल करके तेल निकालता है जहाँ पर तेल पाया जाता है जो कि आधुनिक समय में यानी 2021 में घटकर एक दशमलव आठ किलोमीटर से दो किलोमीटर तक गहराई में पहुंच गया है। अब क्योंकि ओशनिक क्रस्ट केवल पांच से दस किलोमीटर तक ही गहरा हो सकता है। इसके बहुत नीचे तक तो तेल नहीं मिलता है, पर जैसा की आप जानते हैं कि समुद्र में कई सारे जीव और वनस्पति पाई जाती हैं। ओर करोडों करोड साल तक ये जीव और वनस्पतियां जब मरकर समुद्र की तलहटी पर डिपॉजिट होते जाते हैं तब करोडों साल तक इनके डी कंपोजिशन से ये कच्चे तेल में कन्वर्ट होकर ओशनिक कृष्ट के दरारों में इकट्ठे हो जाते हैं। पर ये समुद्र में हर जगह नहीं बल्कि कुछ ही जगहों पर, जिनके बारे में अभी हमें पूरी तरीके से जानकारी नहीं है, हां कुछ के बारे में हम जानते हैं और वहाँ पर दोहन कर वहाँ पर तेल निकाल भी पा रहे हैं। पर जब तेल हर जगह नहीं है तो आखिर समुद्र के नीचे हर जगह क्या हैं? देखिए जब से पृथ्वी बनी है उसके कुछ समय बाद से ही पृथ्वी पर जलचक्र बना हुआ है और जलचक्र के कारण से ही पृथ्वी के किसी ना किसी जगहों पर पानी बरसता ही रहता है। और जब पानी बरसता है तो नदियों के सहारे कुछ अमाउंट में पानी तो समुद्र में मिल ही जाता है और कुछ अमाउंट में पानी जमीन द्वारा सोक लिया जाता है पृथ्वी के हर जगह पर और यही सोखा हुआ पानी आज हम हैंडपंप और बोरवेल जैसे चीजों से निकाल लेते हैं और ये सब चीजें तो हम आज के समय में कर ही पाते हैं। पहले के समय में हैंडपंप जैसी चीजें नहीं थी तो करोडों साल से बरसा हुवा पानी आखिर कहाँ गया है जो कि पृथ्वी पर पहले से ही मौजूद पानी जल चक्कर के कारण पृथ्वी के विभिन्न भागों पर बरस कर पृथ्वी के हर हिस्से पर समान रूप से फैल रहा था। जी हाँ आप सही सोच रहे हो ये सब पानी जमीन के अंदर स्टोर है और ये करोडो करोडों साल से स्टोर है जब पृथ्वी पर पानी आया था और जलचक्र के कारण ये पृथ्वी के विभिन्न भागों में फैल गया और करोडो करोडों साल तक स्टोर होते होते पृथ्वी के क्रस्ट के नीचे मेंटल के उपर सतह पर जाकर स्टोर हो चुका है और इस पर एक स्टडी भी हो चुकी है यानी समुद्र के नीचे भी पानी ही है और ये पानी बहुत समय से ही जमीन के नीचे स्टोर ।

तो दोस्तों आपको ये Post कैसी लगी हमे कमेंट में जरूरत बताना अगर आपको ये Post अच्छी लगीं तो इसे लाइक ओर Share जरूर करना

ओर हमारे रिसर्च हिंदी फैक्ट्स Website को Allow करके नोटिफिकेशन आयकॉन को ऑन  करें ताकि हमारे New Post की नोटीफिकेशन सबसे पहले आप तक पहुंच सके
Thanks for watching
Ji hind vande mataram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button